“प्रथमा” पंचगव्य-आयुर्वेद आधारित प्राथमिक चिकित्सा किट

685.00

Check

SKU: 113 Category:

Description

समस्त विश्व को आरोग्य, आयुर्वेद एवं औषधियों का ज्ञान देने वाले भारत में आज भी पूर्ण चिकित्सा से लेकर प्राथमिक चिकित्सा “फर्स्ट ऐड” तक सभी पर पाश्चात्य चिकित्सा “एलोपेथी” का ही दबदबा है | जबकि हमारे पास सैकड़ो जीवनदायनी औषधियों, गौ-माता एवं आयुर्वेद का ज्ञान होते हुए आजादी के इतने सालों बाद भी “एलोपेथी” पर आश्रित रहना शर्म का विषय है |

इन्ही वेदनाओं से पीड़ित होकर गव्यसिद्धों की एक टीम ने पूर्ण प्राकृतिक, निरापद एवं तेज प्रभाव वाली पंचगव्य-आयुर्वेद आधारित एक प्राथमिक चिकित्सा किट बनाने का निर्णय लिया, और लगभग पांच वर्षो के सतत प्रयास से हजारों रोगियों पर सफल प्रयोग करने के बाद देश की पहली प्राथमिक-चिकित्सा किट “प्रथमा” का निर्माण किया |

प्रथमा” ही क्यों ??

मूल आधार – भारत या कहें विश्व की पहली प्राथमिक चिकित्सा किट का नाम भी “प्रथमा” रखा गया है, अथार्त किसी भी छोटी-बड़ी शारीरिक व्याधी के लिए प्रथम प्रयोग होने वाली औषधियों का संग्रह | इस किट का मूल आधार गौ-माता के पंचगव्य ( गौमय, गौमूत्र, दूध, दही एवं घृत ) एवं आयुर्वेद है |

लाभ – शरीर के किसी भी अंग में होने वाले छोटे बड़े दर्द से लेकर वायरल फीवर, पेट दर्द, सर दर्द, दाद-खाज खुजली, शरीर में कहीं भी खून निकलना एवं चोट लगने पर “प्रथमा” से प्रारंभिक चिकित्सा की जा सकती है |

सुविधा “प्रथमा” को एक सुविधाजनक छोटी सी कपड़े की किट में पैक किया गया है जिसे आप घर पर, यात्रा में अथवा अपनी कार आदि में सभी जगह अपने साथ रखे और प्राकृतिक रूप से प्रारंभिक चिकित्सा करके छोटी-बड़ी समस्या में चिकित्सकों की अनुपलब्धता से होने वाली घबराहट के कारण ली गई गलत चिकित्सा से बचा जा सकता है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *